10 Lines on Sardar Vallabhbhai Patel in Hindi | सरदार वल्लभभाई पटेल पर 10 लाइन

10 Lines on Sardar Vallabhbhai Patel in Hindi | सरदार वल्लभभाई पटेल पर 10 लाइन

सरदार वल्लभभाई पटेल एक भारतीय स्वतंत्रता सेनानी, वकील और प्रभावशाली राजनीतिक नेता थे।

सरदार वल्लभभाई पटेल का जन्म 31 अक्टूबर 1875 को नडियाद, गुजरात में हुआ था।

उनका असली नाम वल्लभभाई झावेरभाई पटेल था।

उनके पिता का नाम झवेरभाई पटेल और माता का नाम लाडबा देवी था।

सरदार वल्लभभाई पटेल स्वतंत्र भारत के पहले उप प्रधान मंत्री और पहले गृह मंत्री थे।

उन्हें भारतीय संघ में 500 से अधिक रियासतों के एकीकरण का श्रेय दिया जाता है।

उन्हें “भारत के लौह पुरुष” या “राष्ट्र के एकीकरणकर्ता” के रूप में भी जाना जाता है।

सरदार वल्लभभाई पटेल, निस्संदेह, 20वीं शताब्दी में भारत के सबसे प्रभावशाली व्यक्तियों में से एक थे।

उनका जन्मदिन (31 अक्टूबर) भारत में राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाया जाता है।

वह भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (INC) के एक वरिष्ठ नेता थे।

उन्हें 1991 में भारत के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार भारत रत्न से सम्मानित किया गया था।

10 Lines on Sardar Vallabhbhai Patel in English

Sardar Vallabhbhai Patel was an Indian freedom fighter, lawyer and influential political leader.

Sardar Vallabhbhai Patel was born on 31 October 1875 in Nadiad, Gujarat.

His real name was Vallabhbhai Jhaverbhai Patel.

His father’s name was Jhaverbhai Patel and his mother’s name was Ladba Devi.

Sardar Vallabhbhai Patel was the first Deputy Prime Minister and the first Home Minister of independent India.

He is credited with the integration of more than 500 princely states into the Indian Union.

He is also known as “The Iron Man of India” or “Unifier of the nation”. 

Sardar Vallabhbhai Patel was one of the most influential figures in India in the 20th century. 

His birthday (31st October) is celebrated as National Unity Day in India.

He was a senior leader of the Indian National Congress (INC). 

He was awarded the Bharat Ratna, India’s highest civilian award, in 1991.

5 Lines on Sardar Vallabhbhai Patel in Hindi | सरदार वल्लभभाई पटेल पर 5 लाइन

सरदार वल्लभभाई पटेल का जन्म 31 अक्टूबर 1875 को नडियाद, बॉम्बे प्रेसीडेंसी, ब्रिटिश भारत में हुआ था।

उन्होंने भारत के एकीकरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

उन्हें 1991 में भारत के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार भारत रत्न से सम्मानित किया गया था।

31 अक्टूबर 2018 को दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ उन्हें समर्पित की गई थी।

बारडोली (1928) के किसानों के आंदोलन का सफलतापूर्वक नेतृत्व करने के बाद उन्हें सरदार (नेता/प्रमुख) की उपाधि मिली थी।

5 Lines on Sardar Vallabhbhai Patel in English

Sardar Vallabhbhai Patel was born on 31 October 1875 in Nadiad, Bombay Presidency, British India.

He played an important role in the integration of India.

He was awarded the Bharat Ratna, India’s highest civilian award, in 1991.

The world’s tallest statue ‘The Statue of Unity” was dedicated to him on 31 October 2018.

He received the title of Sardar (leader/chief) after successfully leading the farmers’ movement of Bardoli (1928).

हम आशा करते हैं कि आपको हमारा लेख 10 Lines on Sardar Vallabhbhai Patel in Hindi | सरदार वल्लभभाई पटेल पर 10 लाइन पसंद आया होगा. यदि आपको हमारा यह लेख पसंद आया हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ साझा कर सकते हैं।

2 thoughts on “10 Lines on Sardar Vallabhbhai Patel in Hindi | सरदार वल्लभभाई पटेल पर 10 लाइन”

Leave a Comment